पेपरलेस होगा काम, कैश एप्लिकेशन से आंगनबाड़ी सेविकाओं को मिलेगा आराम

आंगनवाड़ी सेविका पर काम के बढ़ते हुए बोझ को कम करने के लिए विभाग की ओर से एक ठोस पहल की जा रही है ताकि बेवजह की परेशानी से निजात मिले। कागज पर होनेवाला काम अब तकनीक आधारित होगा वो भी तेजी के साथ। बिहार के पांच जिले में इसकी कवायद शुरू कर दी गई है। इसी को लेकर बेगूसराय जिले में आईसीडीएस की ओर से प्रशिक्षण दिया जा रहा है
जिले से चयनित सभी परियोजना से महिला पर्यवेक्षिका और आंगनबाड़ी सेविकाओं का तीन दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। इस तीन दिवसीय प्रशिक्षण के माध्यम से प्रशिक्षुओं को पेपरलेस कार्यों की जानकारी मोबाइल कैश एप्लीकेशन के माध्यम से दी जा रही है। इस प्रशिक्षण में केयर इंडिया के मास्टर ट्रेनर विकास कुमार वर्मा ने जानकारी देते कहा कि कि देश के सभी राज्यों में प्रशिक्षण कार्य जारी है। साथ ही बिहार में पांच जिले में एक साथ प्रशिक्षण कार्य चल रहा है। बेगूसराय के विभिन्न प्रखंडों से चयनित महिला पर्यवेक्षिकाओं एवं सेविकाओं को मास्टर ट्रेनिंग दी जा रही है। प्रशिक्षण के बाद आंगनबाड़ी सेविका अपने अपने प्रखंडों में सेविकाओं को सुचारू रूप से प्रशिक्षण देंगी। जिले के सभी सेविकाओं को विभाग के द्वारा 4G मोबाइल भी उपलब्ध कराया गया है जिसमें एप अपलोड कर आंगनबाड़ी केंद्रों का संचालित करने का तरीका समझाया गया है इस काम के हर महीने उन्हें विभाग के द्वारा 2GB डाटा उपलब्ध कराया जाएगा। जिसका इस्तेमाल विभाग के रिपोर्टिंग में करेगी साथ ही विभागीय कॉल भी फ्री होगाI आईसीडीएस विभाग के द्वारा यह दिया जा रहा है। इससे विभागीय कार्य में तेजी आएगी और काम भी निष्पक्ष और पारदर्शी होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × three =